न्यू शायरी

अन्य

इस दुनिया में अजनबी रहना ही ठीक है....


बिना मिले ही तेरा यूँ मोहब्बत करना....


कुछ रिश्ते दरवाजे खोल जाते हैं....


उसने देखा ही नहीं अपनी हथेली को कभी.....


हम झुकते हैं क्यूंकि हमे रिश्ते निभाने का शौक है.....


न आना लेकर उसे मेरे जनाजे में....